Activity 3.5 Class 10 Science in Hindi Medium

Activity 3.5 Class 10 Science in Hindi

यहां आपको  NCERT Activity 3.5 Class 10 Science Explanation in Hindi  मिलेगा जो अध्याय 3 धातुओं और अधातुओं से संबंधित है।  अध्याय 3 धातुओं और अ धातुओं के सोल्यूशन्स पढ़ने के बाद, आप गतिविधि 3.5 कक्षा 10  को समझने में सक्षम होंगे।

Activity 3.5 Class 10 Science in Hindi

क्रियाकलाप (Activity) 

  • एल्यूमीनियम या तांबे का तार लीजिये । क्लैंप की मदद से इस तार को एक स्टैंड से बाँध दीजिये |
  • तार के खुले सिरे पर मोम का उपयोग कर एक पिन चिपका दीजिये ।
  • स्पिरिट लैंप , मोमबत्ती या बर्नर से क्लैंप  के निकट तार को  गर्म कीजिये |
  • थोड़ी देर बाद आप  क्या देखते हैं?
  • अपने प्रेक्षणों को लिखिये | क्या धातु का तार पिघलता है?

 

प्रेक्षण (Observation & Explanation)

जब  तार को गर्म किया जाता है और कुछ समय बाद पिन नीचे गिर जाता है। इससे पता चलता है कि तार के माध्यम से गर्मी या ऊष्मा  प्रहावित होती  है और मोम को पिघला देती है और लंबे समय तक गर्म करने के बाद भी तार पिघलता नहीं है।

 निष्कर्ष (Conclusion)

यह गतिविधि हमें बताती है कि धातु ऊष्मा के अच्छे चालक होते हैं|

 

ऊष्मीय चालकता (Heat conductivity) 

 धातु ऊष्मा के अच्छे चालक होते  हैं। धातुओं की तापीय चालकता मुक्त इलेक्ट्रॉनों के प्रवाह  होने के कारण होती है। जब हम धातु शीट के एक छोर को गर्म करते हैं, तो उस हिस्से में उपस्थित इलेक्ट्रॉन ठंडे क्षेत्र की ओर बढ़ते हैं जिसके परिणामस्वरूप तापीय चालकता उत्पन्न होती  है।

धातुओं की  तापीय चालकता भिन्न  भिन्न होती हैं, चांदी और तांबा सबसे अच्छे चालक  होते हैं जबकि सीसा और पारा जैसी धातुएं ऊष्मा  के कुचालक होते हैं। 

Leave a Comment