RBSE Activity 2.8 Class 10 Science Solutions in Hindi

आज हम RBSE Activity 2.8 Class 10 Science Solutions in Hindi को अच्छे से समझने वाले हैं जो कि  अध्याय 2 अम्ल , क्षार और लवण पर आधारित हैं |इस क्रियाकलाप में  हम विभिन्न विलयनों द्वारा विद्युत के संचालन के बारे में जानेंगे |

गतिविधि(Activity in Hindi)

  • ग्लूकोज, अल्कोहल, हाइड्रोक्लोरिक अम्ल , सल्फ्यूरिक अम्ल आदि का विलयन लीजिये।
  • एक कॉर्क पर दो कीलें लगाकर कॉर्क को को 100 मिलीलीटर के  बीकर में रखिये ।
  • कीलों को 6 वोल्ट बैटरी के दोनों टर्मिनलों के साथ एक बल्ब और  स्विच के माध्यम से जोड़ दीजिये |
  • अब बीकर में कुछ तनु HCl डालकर विद्युत धारा प्राबाहित कीजिये |
  • इस क्रिया को तनु सल्फ्यूरिक अम्ल के साथ दोहराइए |
  • आपने क्या प्रेक्षण किया ?
  • इन परीक्षणों को ग्लूकोज और एल्कोहल के विलयनों के साथ अलग – अलग से दोहराएं। अब आपने क्या प्रेक्षण किया ?
  • बल्ब क्या प्रत्येक स्थिति में जलता  है?

अवलोकन

 

Activity 2.8 class 10 science Hindi medium
                                  Activity 2.8 class 10 science Hindi medium

जब अम्लीय विलयन (HCl /H2SO4)में विद्युत धारा प्रवाहित की जाती है तो बल्ब जलता है लेकिन  लेकिन ग्लूकोज और एल्कोहल विलयनों में विद्युत धारा प्रावाहित करने पर बल्ब नही जलता है |

विद्युत धारा का   प्रवाह या संचालन मुक्त आयनों की उपस्थिति में होता है|

जब अम्ल को जल में मिलाया जाता है तो वे आयनों मुक्त करते है जिसके कारण अम्लीय विलयनों में विद्युत का संचालन होता है|

इसके विपरीत ग्लूकोज या एल्कोहोल के विलयन में मुक्त आयन अनुपस्थित होते है इसलिए विद्युत का संचालन नही होता है |

निष्कर्ष

 उपरोक्त kriyaakalpp 2.8  से पता चलता है कि आयनों द्वारा विधुत का संचालन होता है जिसके कारण विद्युत परिपथ पूर्ण होने से  बल्ब जलता है |

अन्य पढ़ें

  1. Activity 2.9
  2. Activity 2.7

Leave a Comment